Tags

, , ,

उत्तरी कोलकाता के गणेश टॉकीज के पास गुरुवार को गिरे ब्रिज में दबने से अब तक 24 लोगों की जान जा चुकी है और कई लोग घायल हैं। फिलहाल रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है और आशंका है कि मलबे से और शव बरामद हो सकते हैं।

इस बीच ब्रिज का निर्माण कर रही कंपनी आईवीआरसीएल ने पूरे हादसे से पल्ला झाड़ते हुए कहा है कि उन्हें भी नहीं पता यह हादसा कैसे हो गया। शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कंपनी के लीगल अधिकारियों ने कहा कि हम खुद भी सदमे में है और लोगों की मौत का हमें दुख है। हम भी जानने को उत्सुक हैं कि हादसा कैसे हुआ।

अधिकारियों का कहना है कि हमने सभी स्लैबों को बनाने में सेम मटीरियल इस्तेमाल किया, सिर्फ एक ही कैसे गिर सकती है। हमारे कर्मचारियों को भी चोट लगी है, वे हॉस्पिटल में भर्ती हैं। यह हादसा हमारी लापरवाही से नहीं हुआ है।

हादसे को लेकर केस दर्ज होने की बात पर उन्होंने कहा कि हमें अब तक एफआईआर दर्ज होने की कोई सूचना नहीं मिली है लेकिन हम जांच में पूरा सहयोग करेंगे। हमारी लीगल टीम जांच में सहयोग कर रही है और अब तक हमारे किसी अधिकारी से पूछताछ नहीं हुई है।

जब अधिकारियों से हादसे की जिम्मेदारी को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि यह एक दुर्घटना थी और कैसे किसी को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है। हादसे को एक्ट ऑफ गॉड कहना महज दुर्घटना को लेकर प्रतिक्रिया देना था कि यह किसी के वश में नहीं थी।

Source: कोलकाता पुल हादसाः IVRCL ने जिम्मेदारी से झाड़ा पल्ला, अब तक 24 की मौत

Advertisements