Tags

, ,

निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर सोमवार को हैंड हेल्ड मशीन पायलट योजना की शुरुआत हुई। मुबंई से रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने रिमोट से इस सेवा की शुरुआत की। इस मौके पर निजामुद्दीन स्टेशन पर रेलवे के तमाम आला अफसरों के साथ रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा, केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, सांसद मीनाक्षी लेखी सहित अन्य लोग भी मौजूद रहे।

हैंड हेल्ड पायलट परियोजना

रेलवे की इस पायलट परियोजना का मकसद यात्रियों की सुविधा मेंं इजाफा करना है। अब यात्रियों को टिकट के लिए लंबी लाइन में नहीं लगना होगा। यात्रियों को यह टिकट रेलवे स्टेशन पर ही सुलभ होगा। इसके लिए बाकायदा रेल कर्मी हैंड हेल्ड मशीन के साथ प्लेटफार्म पर उपलब्ध होंगे। ट्रेन आने के पांच मिनट पहले तक यात्री हैंड हेल्ड से टिकट खरीद सकते हैं। रेलवे का कहना है कि इस योजना की शुरुआत की गई है, लेकिन बाद में इस योजना का विस्तार किया जाएेगा।

ट्रैक मैन का बोझ हुआ हल्का

इस कार्यक्रम में रेल मंत्री ने घोषणा की कि ट्रैक मैन के 26 किलो के बोझ को दस किलो हल्का कियाा गया है। अब ट्रैक मैन के बोझ का वजन 16 किलो कर दिया गया है। ट्रैक मैन की यह काफी पुरानी मांग थी। इस खबर से ट्रैक मैन के चेहरों पर खुशी की लहर दौड़ गई है।

मानव रहित फाटक पर अलार्म योजना

देश के सभी मानव रहित फाटक पर अलार्म लगाने की योजना है। यह मांग भी काफी पुरानी है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने आज अलार्म योजना का शुभारंभ किया। उम्मीद की जा रही है कि इस योजना के बाद मानव रहित क्रासिंग पर होने वाले हादसों में कमी आएगी। Read more www.jagran.com/

Advertisements