Tags

, , , ,

भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ उनकी धरती पर आखिरी टेस्ट सीरीज वर्ष 2011 में धौनी की कप्तानी में खेला था। इस टेस्ट सीरीज में भारत ने वेस्टइंडीज को तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 से हराया था। इस पूरे सीरीज के दौरान इस भारतीय तेज गेंदबाज ने वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों की जमकर क्लास लगाई थी और पूरे सीरीज में छाए रहे।

वर्ष 2011 में वेस्टइंडीज में हुए तीन टेस्ट मैचों की सीरीज को भारत ने जीता था और भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा का इस सीरीज में धमाकेदार प्रदर्शन रहा था। इशांत ने इस सीरीज के हर मैच में कैरेबियाई बल्लेबाजों को परेशान किया और खूब विकेट लिए। तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में इशांत ने कुल 22 विकेट लिए थे और ‘मैन ऑफ द सीरीज’ रहे थे। इशांत ने पहले टेस्ट की दोनों पारियों में 3,3 दूसरे टेस्ट मैच की दोनों पारियों में 6,4 और तीसरे टेस्ट मैच की दोनों पारियों में 5 और 1 विकेट लिए थे।

वेस्टइंडीज दौरे पर विराट का मुख्य हथियार इशांत शर्मा ही होंगे। उनके पिछले प्रदर्शन को देखते हुए ये उम्मीद की जा रही है कि वो वहां एक बार फिर से कामयाब होंगे। वैसे भी इशांत इस वक्त भारतीय गेंदबाजों में सबसे अनुभवी हैं और उनका अनुभव अन्य गेंदबाजों के काम भी आएगा। इशांत ने अपने करियर में अब तक 68 टेस्ट मैच खेले हैं जिनमें उनके नाम 201 विकेट है।

Read more http://www.jagran.com/

Advertisements